Wednesday , September 19 2018
Loading...

38 मौतों पर मुआवजे की सियासत शुरू

नई दिल्ली: विदेश राज्य मंत्री विजय कुमार सिंह (वीके सिंह) इराक में आतंकवादी संगठन आईएस के हाथों मारे गए 38 हिंदुस्तानियों के शवों को कल हिंदुस्तान लाए इन शवों को वायुसेना के एक विशेष कार्गों विमान से हिंदुस्तान लाया गया मौका मायूसी  मातम का था, लेकिन, जब सिंह से मीडिया ने मारे गए लोगों के परिवारों को मुआवजे से जुड़ा सवाल किया तो वो नाराज नजर आएकहा- ये बिस्किट बांटने वाला कार्य नहीं, ये आदमियों की जिंदगी का सवाल है राजनितिक पार्टी कांग्रेस पार्टी ने वीके सिंह के इस बयान को पीड़ितों के घाव पर नमक छिड़कने जैसा बताया है

Image result for वीके सिंह

सोमवार को वीके सिंह इराक से एक विशेष विमान (C-17 ट्रांसपोर्ट प्लेन) से 38 हिंदुस्तानियों का मृत शरीर लेकर अमृतसर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर पहुंचे एयरपोर्ट से बाहर निकलकर सिंह ने मीडिया से वार्ता की मुआवजे के सवाल पर सिंह ने बोला कि “ये बिस्किट बांटने वाला कार्य नहीं है, ये आदमियों की जिंदगी का सवाल है आ गई बात समझ में? मैं अभी एलान कहां से करूं? जेब में कोई पिटारा थोड़ी रखा हुआ है ”

Loading...

सिंह यहीं नहीं रुके, बल्कि मृतकों के परिवारों को जॉब देने के सवाल पर उन्होंने बोला कि ये फुटबॉल का खेल नहीं है उनकी बयानबाजी पर कांग्रेस पार्टी ने हमला कहा है कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने बोला कि विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह ने मृतकों के परिवारों के लिए मुआवजे की मांग को न सिर्फ खारिज किया बल्कि इस मांग को बिस्किट बांटने से तुलना करके मृतकों के परिवारों को घावों पर नमक रगड़ने का कार्य किया है वहीं पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने बोला कि राज्य गवर्नमेंट मारे गए लोगों के परिजन को 5-5 लाख रुपये प्रदान करेगी उन्होंने बोला कि इसके अतिरिक्त हर परिवार में एक आदमी को योग्यता के मुताबिक जॉब दी जाएगी उन्होंने बोला कि राज्य गवर्नमेंट इराक में मारे गए लोगों के परिवार को 20 हजार रुपये प्रति माह दे रही थी

loading...
Loading...
loading...