Saturday , September 22 2018
Loading...
Breaking News

कश्मीरी युवकों के बंदूक थामने पर उमर ने जताई चिंता

जम्मू व कश्मीर के पूर्व CM उमर अब्दुल्ला ने अधिक संख्या में युवाओं के आतंकवाद में शामिल होने पर चिंता जाहीर की साथ ही उन्होंने हिजबुल कमांडर बुरहान वानी के मारे जाने के दो वर्ष बाद सामने आए इस नए चलन के लिए CM महबूबा मुफ्ती को जिम्मेदार ठहराया है उमर ने अनेक ट्वीट करके कहा, ‘‘12 लोगों के मारे जाने की पुष्टि के बाद मेरा मानना है कि 11 लोकलकश्मीरी हैं (और) 12 वें आदमी की पहचान की जा रही है इनमें में कोई भी विदेशी आंतकवादी नहीं है क्या दिल्ली की सत्ता पर काबिज कोई भी इससे चिंतित नहीं है क्योंकि मैं तो यकीनन हूं ’’Image result for कश्मीरी युवकों के बंदूक थामने पर उमर ने जताई चिंता

 

उमर के ट्वीट शोपिया  अनंतनाग में 1 अप्रैल को हुई तीन मुठभेड़ों पर थे जिसमें 13 आतंकवादी, चार नागरिक  सेना के तीन जवान मारे गए थे उमर ने कहा, ‘‘@ महबूबा मुफ्ती की सबसे बड़ी असफलता जिस पर बहुत कम चर्चा हुई है वह है बड़ी संख्या में कश्मीरी युवकों के आंतकवादी संगठनों में शामिल होना ’’

Loading...

उन्होंने कहा, ‘‘कश्मीर में रक्तरंजित रविवार13 आंतकवादी मारे सेना के तीन जवान ड्यूटी के दौरान मारे गए  मुठभेड़ स्थल पर चार प्रदर्शनकारी मारे गए विपक्षी पार्टी नेशनल कॉन्फ्रेंस ने कार्यकारी अध्यक्ष ने CM पर बरसते हुए बोला कि घाटी में मुठभेड़ बढ़ रहे हैं  वह दिल्ली में हैं

loading...

उन्होंने कहा, ‘‘जब ये सब घट रहा है तो भी CM ने अपनी दिल्ली की यात्रा को बीच में खत्म करना उचित नहीं समझा वहां क्या इतना महत्वपूर्ण है जिससे वह वहां रुकीं हुई हैं

सैन्य कार्रवाई में ढेर हुए 13 में से 10 आतंकवादी शोपियां से थे
बताते चलें कि राज्य पुलिस द्वारा सप्ताहांत में आतंकियों के विरूद्ध चलाए गए व्यापक अभियान के दौरान मार गिराये गए 13 आतंकियों में से 10 शोपियां के थे यह इस बात का इशारा है कि पिछले पांच महीनों के दौरान सुरक्षा बलों ने दक्षिण कश्मीर में आतंकवादियों के गढ़ माने जाने वाले इस इलाके में अपनी पकड़ मजबूत कर ली है कभीआतंकवाद के मुख्य केंद्र के तौर पर देखे जाने वाले शोपियां के मारे गए 10 आतंकियों में से अधिकांश युवा थे  उन्होंने आतंकवादी गतिविधियां पिछले वर्ष से लेकर हाल में ही प्रारम्भ की थीं सुरक्षा प्रतिष्ठान से जुड़े सूत्रों ने उम्मीद जताई कि लापता युवकों के माता- पिता अब अपने बच्चों को हिंसा का रास्ता छोड़ सेरेण्डर करने के लिए प्रेरित करेंगे

Loading...
loading...