Saturday , September 22 2018
Loading...
Breaking News

मजदूरों के मृत शरीर बगदाद में इंडियन अधिकारियों को सौंप दिए

उत्तरी इराक में बंधक बना कर मार डाले गए 38 इंडियन कंस्ट्रक्शन मजदूरों के मृत शरीर बगदाद में इंडियन अधिकारियों को सौंप दिए गए हैं इन्हें देर रात हिंदुस्तान भेजा जायेगा इंडियन राजदूत प्रदीप सिंह राजपुरोहित ने बोला कि शवों को बगदाद अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा पर ले जाया गया है  इन्हें सेना केएक विमान से भेजा जायेगा विमान संभवत: सोमवार हिंदुस्तान पहुंच जायेगा ताबूतों को विमान में चढ़ाये जाने पर हिंदुस्तानके विदेश राज्य मंत्री वी के सिंह ने उन्हें सलामी दी सिंह ने आतंकियों की आलोचना की  आतंकवाद के विरूद्धलड़ाई में अपनी गवर्नमेंट के रुख को जाहिर कियाImage result for मोसुल में मारे गए हिंदुस्तानियों के शवों को अधिकारियों को सौंपा गया

आईएस को‘‘ बेहद क्रूर संगठन’’ बताते हुए उन्होंने बोला कि हमारे राष्ट्र के नागरिक आईएस की गोलियों के शिकार हुए हैं   उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘ हमलोगहर तरह के आतंकवाद के विरूद्ध हैं ’’ बताते चलें कि वर्ष2014 में उत्तरी मोसुल शहर पर कब्जा करने के तुरंत बाद आईएस ने इन मजदूरों को अगवा कर लिया था

राजनीति में भूचाल
इस महीने की आरंभ में स्वराज ने संसद को बताया था कि जून, 2014 में इराक के मोसुल में आतंकवादी संगठन आईएसआईएस ने 40 हिंदुस्तानियों का अपहरण कर लिया था इनमें से एक हालांकि खुद को बांग्लादेशी मुसलमान बचाकर वहां से बच निकला था उन्होंने बताया था कि बाकी 39 हिंदुस्तानियों को बादूश ले जाया गया  उनकी मर्डर कर दी गई

विदेश मंत्री द्वारा सदन को इस बात की जानकारी दिए जाने के बाद राष्ट्र की पॉलिटिक्स में हंगामा खड़ा हो गया विपक्षी दलों ने गवर्नमेंट पर इस मामले में पीड़ित परिजनों के साथ राष्ट्र को भ्रमित करने के आरोप लगाए थे

Loading...

बदूश में बनी कब्रगाह
आईएसआईएस आतंकवादियों ने हिंदुस्तानियों का अपहरण करके बदूश शहर में उनकी मर्डर की थी  वहीं एक टीले में शवों को दफना दिया गया था इराक गवर्नमेंट ने हिंदुस्तान को एक टीले में कुछ दबे होने के बारे में बताया था इसके बाद हिंदुस्तान ने एक रडार की मदद से टीले में मृत शरीर होने की पुष्टि की शवों की पुष्टि होने के बाद विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह ने खुद बदूश में डेरा डाला  अपने सामने ही शवों की खुदाई करवाकर उनके डीएनए की जांच कराई

loading...
Loading...
loading...