Tuesday , November 13 2018
Loading...
Breaking News

रिश्तों में ठहराव के लिए ज़रूरी है इमोशनल अटैचमेंट व संवाद

आज के दौर में लोगों के बीच जंग झगड़ों की बहुत ज्यादा खबरें सुनने को मिलती हैं इन झगड़ों की ख़ास वजह यह है कि कार्यालय के कार्य की टेंशन में हम एक दूसरे को टाइम नहीं दे पाते इसी के चलते लोगों में सहनशीलता  उनकी समझ में कमी आने लगी है इस तरह की समस्या ज्यादातर नयी पीड़ी में देखने को मिल रही है समय रहते ऐसी समस्याओं का निवारण निकालें ताकि यह उलझी हुई गुत्थी  ज्यादा न उलझे

Image result for रिश्तों में ठहराव के लिए ज़रूरी है इमोशनल अटैचमेंट व संवाद

जिस तरह पतंग  डोर का रिश्ता होता है, अच्छा उसी प्रकार पार्टनर्स के बीच का भी रिश्ता होता हैदोनों में जितना कनेक्शन, आपसी जुड़ाव  संपर्क बना रहेगा, रिश्ता उतना ही गहराता जायेगा यदि संपर्क टूटा या किसी तरह का मन मुटाव हुआ, तो यह पतंग कट जाएगी यदि पार्टनर्स में आपसी समझ अच्छी रहेगी, तो संबंध में भी ठहराव आएगा  खुशियां बढ़ेंगी

Loading...

अपने पार्टनर की ज़रूरतों का ध्यान रखें  ज़िन्दगी की हर मुसीबत में उनका सपोर्ट सिस्टम बनकर तैयार रहें क्योंकि हालात जैसी भी हो सामना तो आदमी को करना ही होगा, लेकिन आपके थोड़े से संघर्ष  सपोर्ट से पार्टनर की हिम्मत बढ़ जाएगी रिश्तों में मज़बूती लाने के लिए संतुलित संवाद इमोशनल अटैचमेंट रखें

loading...
Loading...
loading...