Tuesday , April 24 2018
Loading...

इस बार जवाहर लाल नेहरू बने शिकार

त्रिपुरा चुनावों के बाद मूर्तियों को निशाने पर लिये जाने का सिलसिला जारी है. लेनिन, पेरियार, अंबेडकर, श्यामा प्रसाद मुखर्जी  गांधी के बाद अब जवाहर लाल नेहरू की मूर्ति पर भी स्याही फेंकने की घटना सामने आयी है. पश्चिम बंगाल के वर्दवान जिले स्थित कटवा टेलिफोन मैदान में जवाहर लाल नेहरू का स्मारक लगाया गया है. शुक्रवार रात  उनकी मूर्ति पर काली स्याही फेंकी गई.

Image result for इस बार जवाहर लाल नेहरू बने शिकारआपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि त्रिपुरा विधानसभा चुनाव के नतीजों के कुछ घंटे बाद ही वहां लेनिन की मूर्ति क्षतिग्रस्त करने की घटना सामने आई थी. सोशल मीडिया पर इस मामले पर खूब चर्चा भी हुई थी. इसके बाद राष्ट्र के विभिन्न हिस्सों में कई विचारधाराओं की समर्थित विभूतियों की  राजनेताओं की मूर्तियों को तोड़ने  स्याही फेंके जाने का सिलसिला ही प्रारम्भ हो गया.

यह भी पढ़ें:   मालदीव की हिंदुस्तान को नसीहत, जानिए क्या कहा ...???
Loading...
loading...

ताजा मामला पश्चिम बंगाल के कोलकाता का है जहां राष्ट्र के प्रथम पीएम की मूर्ति पर स्याही फेंकने का मामला सामने आया है जबकि उससे पहले यहां श्यामा प्रसाद मुखर्जी की मूर्ति से छेड़छाड़ की गई थी. हिंदू विचारक माने जाने वाले श्यामा प्रसाद मुखर्जी की केयोरताला स्थित मूर्ति पर स्याही पोती गई थी. इसी स्थान पर श्यामा प्रसाद मुखर्जी का अंतिम संस्कार किया गया था. इस मामले पर सियासी बयानबाजी भी हुई थी. पश्चिम बंगाल की CM ममता बनर्जी ने मूर्ति तोड़े जाने की घटना की आलोचना की थी.

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
यह भी पढ़ें:   कांग्रेस ने लगाया इस सत्र में देरी का आरोप
Loading...
loading...