Loading...

आतंकवादियों व जेहादियों से प्रयत्न में लगातार जुटी सीरियाई सेना

सीरिया में आतंकवादियों व जेहादियों से प्रयत्न में सीरियाई सेना लगातार जुटी है हुई है व कई बार सीरिया द्वारा रासायनिक हथियार प्रयोग करने के इशारा मिले हैं। अमेरिका ने सीरिया को इस बात के लिए पहले ही चेतावनी देते हुए बोला था की यदि सीरिया अपने सभी रासायनिक हथियार खत्म नहीं करते तो उसके विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगी वहीँ अब फ्रैंक के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों ने स्पष्ट रूप से बोला है कि यदि इस बात की पुष्टि हो जाती है कि सीरियाई गवर्नमेंट ने अपने नागरिकों के विरूद्ध रासायनिक हथियारों का प्रयोग किया है तो फिर फ्रैंक उस पर हमला करेगा।Image result for आतंकवादियों व जेहादियों से प्रयत्न में लगातार जुटी सीरियाई सेना

राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों ने आगे बोला है कि – “हम उन स्थानों पर हमले करेंगे, जहां से ये हमले किए गए थे। हमारी एजेंसियां अभी यह साबित नहीं कर पाई हैं कि इन रासायनिक हथियारों का प्रयोग नागरिकों के विरूद्ध किया गया था। जैसे ही यह साबित होता है, मैं वही करूंगा जो मैंने बोला है। ”

यह भी पढ़ें:   5 मई को मंगल ग्रह जाएगी फ्लाइट...
Loading...
loading...

इसके बाद मैक्रों का कहना है कि उनकी जंग आतंकिया व जेहादियों के विरूद्ध है व वे उसे ही प्राथमिकता देंगे लेकिन अगर वे सीरिया हमला करते हैं तो हमले के दौरान या उसके बाद सीरियाई गवर्नमेंट अंतरराष्ट्रीय न्यायलय के समक्ष जवाबदेह होगी। आगे राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों ने बोला कि अगर मुनासिब हो सके तो इस सीरिया के मुद्दे पर बात करने के लिए अंतरराष्ट्रीय मीटिंग आयोजित की जानकी चाहिए। शुक्रवार के दिन रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से फ़ोन पर बात करते हुए फ्रैंक के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों ने बोला कि सीरिया द्वारा पिछले कुछ हफ़्तों में लोगों पर कई बार क्लोरीन के प्रयोग करने के इशारा मिले हैं व अब हमारी एजेंसिया इस बात की सत्यता की जांच में जुटी हुई हैं। यदि यह हकीकत साबित होता है तो फ्रैंक सीरिया पर हमला करेगा।

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
यह भी पढ़ें:   सीरिया में भी गिनती के दिन बचे
Loading...
loading...