Thursday , April 26 2018
Loading...

विंटर ओलंपिक में हिंदुस्तान का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं केशवन

प्योंगचांग: शीतकालीन खेलों में लंबे समय से हिंदुस्तान का प्रतिनिधित्व कर रहे शिवा केशवन ने यहां प्योंगचांग शीतकालीन ओलंपिक की पुरुष ल्यूज एकल स्पर्धा में 34वें जगह पर रहने के बाद अपने दो दशक से अधिक लंबे अंतर्राष्ट्रीय करियर को अलविदा कहा। अपने छठे व अंतिम शीतकालीन ओलंपिक में भाग ले रहे 36 वर्ष के केशवन ने अपने ओलंपिक अभियान का सर्वश्रेष्ठ समय निकाला व ओलंपिक स्लाइडिंग सेंटर में तीसरे राउंड की हीट में 1344 मीटर के ट्रैक को 48 .900 सेकेंड में पूरा किया।Image result for विंटर ओलंपिक में हिंदुस्तान का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं केशवन

वह तीसरी हीट में 40 प्रतिभागियों में 30वें जबकि तीन दौर के बाद कुल 34वें जगह पर रहे। तीन दौर के बाद शीर्ष 20 में स्थान नहीं बनाने के कारण केशवन चौथे व अंतिम दौर में भाग नहीं ले पाएंगे जिसमें पदक का निर्णय हुआ।

केशवन दूसरे दौर के बाद भी कुल 34वें जगह पर चल रहे थे। तीन दौर के बाद उनका कुल समय दो मिनट 28.188 सेकेंड रहा। आस्ट्रिया के डेविड ग्लेयरशर ने स्वर्ण पदक जीता जबकि अमेरिका के क्रिस माजदेर ने रजत पदक हासिल किया जो उनके राष्ट्र का पुरुष ल्यूज एकल में पहला पदक है।

यह भी पढ़ें:   आज विशाखापट्टनम में टीम इंडिया के खिलाफ लाज बचाने उतरेगी श्रीलंका

जर्मनी के योहानेस लुडविग ने कांस्य पदक हासिल किया। केशवन ने फिनिश लाइन पार करते ही दर्शकों का अभिवादन किया व अपने स्लेड को अंतिम बार सिर के ऊपर उठाकर दर्शकों की ओर लहराया। दर्शकों के बीच उनके परिवार के सदस्य भी मौजूद थे।

मनाली के रहने वाले केशवन दो दशकों से विंटर ओलंपिक में हिंदुस्तान का चेहरा
हिमाचल के मनाली के समीप वशिष्ठ के रहने वाले केशवन दो शतक से अधिक समय तक राष्ट्र में शीतकालीन ओलंपिक का चेहरा रहे। उन्होंने प्योंगचांग खेलों से अच्छा पहले बोला था कि शीतकालीन ओलंपिक उनके करियर की अंतिम अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता होगी।

Loading...
loading...

केरल के इंडियन पिता व इतालवी मां के बेटे केशवन का जन्म मनाली में हुआ व वह वहीं पले-बढ़े। उन्होंने 1998 में जापान के नगानो में मात्र 16 बरस की आयु में पहली बार शीतकालीन ओलंपिक में भाग लिया। इसके बाद उन्होंने प्रत्येक शीतकालीन ओलंपिक में भाग लिया।

यह भी पढ़ें:   भारत दौरे के लिए हुआ श्रीलंकाई टेस्ट टीम का ऐलान

वह ल्यूज में गत एशिया चैंपियन व सबसे तेज समय का रिकॉर्ड बनाने वाले खिलाड़ी हैं। उन्होंने 2011, 2012, 2016 व 2017 में एशिया ल्यूज चैंपियनशिप जीती।

केशवन ने एशियाई ल्यूज चैम्पियनशिप में जीता था स्वर्ण पदक
हिंदुस्तान के वरिष्ठ शीतकालीन ओलंपियन शिवा केशवन ने जर्मनी के एल्टेनबर्ग में 1 दिसंबर को एशियाई ल्यूज चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीता था। गत विजेता व स्पर्धा में भाग ले रहे इकलौते इंडियन केशवन ने 55.60 सेकेंड के समय के साथ आपने खिताब का बचाव किया।

विंटर ओलंपिक में हिंदुस्तान का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं केशवन
ल्यूजर शिव केशवन व क्रास कंट्री स्कायर जगदीश सिंह नौ फरवरी से प्रारम्भ हुए प्योंगचांग शीतकालीन ओलंपिक में हिंदुस्तान का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। राष्ट्र के मशहूर शीतकालीन ओलंपियन केशवन ने 1998 में जापान में नागानो में पदार्पण किया था, तब से यह उनके छठे ओलंपिक खेल होंगे।

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
Loading...
loading...