Loading...

मुस्लिम परिवार ने धर्म व महजब से दूर हटते हुए इन्सानियत की मिसाल की पेश

देहरादून: एक मुस्लिम परिवार ने धर्म व महजब से दूर हटते हुए इन्सानियत की मिसाल पेश की है। देहरादून के एक मुस्लिम परिवार ने एक हिंदू लड़के का ना केवल पालन-पोषण किया बल्कि उसकी हिंदू रीति-रिवाज से विवाह भी कराई है। यहां की सिग्नल मंडी में रहने वाले मोइनुद्दीन ने 15 वर्ष पहले एक अनाथ लड़के राकेश रस्तोगी को अपने यहां पनाह दी थी।Image result for देहरादून: एक मुस्लिम परिवार ने

मोइनुद्दीन ने राकेश का लालन-पोषण तो किया लेकिन उसके धर्म से छेड़छाड़ नहीं की। राकेश का उन्होंने एक हिंदू लड़के की ही तरह पाला। आज मोइनुद्दीन के घर से राकेश की बारात चढ़ी तो वह भी हिंदू रीति रिवाज से। राकेश की बारात खूब धूमधाम से निकाली गई। मोइनुद्दीन की पत्नी कौसर अपनी बहू को अग्नि के सामने सात फेरे डालकर अपने घर में लाई है।

अनाथ हिंदू का किया पालन-पोषण
मोइनुद्दीन बताते हैं कि वह राकेश के लिए पिछले कई सालों से हिंदू लड़की की तलाश में थे। उन्होंने बताया कि 15 वर्ष पहले जब राकेश उनके पास आया था तब वह 12 वर्ष का था। मोइनुद्दीन के दो व दो बेटियां हैं, मगर वह राकेश को ही बड़ा बेटा मानते हैं। उन्होंने बताया कि मुसलमान के घर में हिंदू लड़के का होना किसी को भी हजम नहीं होता था, इसलिए कोई अपनी लड़की देने को तैयार नहीं होता। अंत में उनकी तलाश मोथरोवाला के आत्माराम के घर में जाकर समाप्त हुई। आत्माराम चौहान अपनी बेटी सोनी का हाथ राकेश के हाथों में देने को तैयार हो गए।

यह भी पढ़ें:   उत्तराखंड में सड़क हादसे से 2 छात्रों की मौत

मुस्लिम घर में देवी-देवताओं की तस्वीर
आत्माराम जब संबंध की बात पर लड़के का घर देखने देहरादून आए तो उनका आश्चर्य का ठिकाना नहीं था। एक मुस्लिम के घर के एक कमरे में हिंदू देवी-देवताओं की फोटोज़ लगी थीं। मानवता की अनोखी मिसाल देखकर आत्माराम अपनी लड़की को इस घर की बहू बनाने के लिए फौरन तैयार हो गए।

मोइनुद्दीन के घर में पले-बढ़े राकेश की हिंदू रीति-रिवाज से विवाह संपन्न हुई

Loading...
loading...

हिंदू रिवाज से शादी
बीते शुक्रवार 9 फरवरी को मोइनुद्दीन के घर से राकेश की बारात धूमधाम से निकली व हिंदू संस्कारों से विवाह संपन्न कराकर बारात वापस आई। इस अनोखी बारात का स्वागत खूब धूमधाम से किया गया। जब सोनी बहू बनकर मोइनुद्दीन के घर आई तो आसपास के मुस्लिम परिवारों ने हिंदू बहू का भी जोरदार स्वागत किया।

यह भी पढ़ें:   अब उत्तराखंड के लोग भी ले सकेंगे अपनी चाय की चुस्की

मोइनुद्दीन ने घर में आने की खुशी में दिए रिसेप्शन में शाकाहारी खाना परोसा गया।

मुस्लिम के घर में होली-दीपावली
रविवार को मोइनुद्दीन ने बहू की खुशी में अपने घर पर रिसेप्शन का आयोजन किया। इस दावत में सारा बंदोवस्त शाकाहारी था। देहरादून की इस अनोखी विवाह में शामिल होने के लिए लोकल प्रशासन के ऑफिसर व मीडिया के लोग भी जुटे। राकेश ने बताया कि जब से वह इस घर में आया है, हर होली व दिवाली को मनाता आया है। उसे कभी नहीं लगा कि वह एक मुस्लिम परिवार में रह रहा है। उसके पूजा-पाठ पर भी कभी किसी ने कोई रोक-टोक नहीं लगाई।

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
Loading...
loading...