Loading...

प्रवर्तन निदेशालय के निशाने पर आ गए हैं नक्‍सली

नई दिल्ली, रीमा पराशर। बिहार के नक्‍सली अब प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के निशाने पर आ गए हैं। प्रवर्तन निदेशालय ने बिहार झारखंड स्पेशल क्षेत्र मध्य जोन के माओवादी इंचार्ज कंमाडर संदीप यादव उर्फ बड़का भइया की करीब 86 लाख की संपत्ति अटैच की है।Image result for प्रवर्तन निदेशालय के निशाने पर आ गए हैं नक्‍सली

इसके भीतर संदीप यादव के रिश्तेदारों के नाम पर खोले गए बैंक खातों के अतिरिक्त फ्लैट, जमीन व महंगी गाड़ियों को अटैच किया गया है। इस नक्सली कमांडर ने अपने रिश्तेदारों के नाम पर बैंक खाते खुलवाए व उसमें करोड़ों रुपए जमा कराए हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जांच के दौरान प्रवर्तन निदेशालय को संदीप यादव के परिजनों के खातों में डेढ़ करोड़ की धनराशि जमा होने का पता चला था। जिसके बाद उसके रिश्तेदारों को पूछताछ के लिए बुलाया गया। पूछताछ के दौरान रिश्तेदार खरीदी गई संपत्ति व खातों में इतने पैसे कहां से आए इसका ब्योरा नहीं दे सके। अब एक-एक कर उसकी संपत्ति अटैच की जा रही है।

पीएम मोदी ने नक्सलियों की कमर तोड़ने की तैयारी कर ली है, इसी के भीतर बड़े नक्सली नेताओं पर प्रवर्तन निदेशालय ने कार्रवाई प्रारम्भ कर दी है। संदीप के दिल्ली, औरंगाबाद व गया स्थित संपत्ति जब्त कर ली गई है। इसके अतिरिक्त संदीप की पत्नी बेटे व दामाद के बैंक खाते भी अटैच किए गए हैं।

यह भी पढ़ें:   अध्यक्ष जीतनराम मांझी ने CM नीतीश कुमार पर लगाये आरोप

अवैध संपत्ति की लंबी लिस्ट
कहने को तो नक्सली गरीबों के हक की लड़ाई लड़ते हैं, लेकिन इनके शीर्ष नेताओं के पास करोड़ों की गैरकानूनी संपत्ति है। यह संपत्ति गैरकानूनी वसूली से अर्जित की गई है। नक्सली कमांडर संदीप यादव की गैरकानूनी संपत्ति की फेहरिस्त बहुत ज्यादा लंबी है। आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि इस नक्सल कमांडर की संपत्ति बिहार से लेकर नयी दिल्ली, नोएडा गाजियाबाद तक फैली हुई है।

Loading...
loading...

बिहार से लेकर दिल्ली तक संपत्ति
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक दिल्ली के द्वारका इलाके में संदीप के दामाद का फ्लैट है, प्रवर्तन निदेशालय ने उसे भी अटैच कर लिया है। औरंगाबाद में संदीप यादव की पत्नी के नाम पर तीन जमीनें भी जब्त कर ली गई हैं।

यह भी पढ़ें:   कुंवारी कन्याओं व बटुक भोज का आयोजन

संपत्ति का ब्योरा नहीं दे पाए रिश्तेदार
जांच के दौरान इस नक्सल कमांडर संदीप के रिश्तेदारों से प्रवर्तन निदेशालय ने पूछताछ की जिसके बारे में वो अच्छा जानकारी नहीं दे पाए। कार्रवाई के दौरान प्रवर्तन निदेशालय द्वारा कई ट्रैक्टर व महंगी गाड़ियां भी अटैच की गई हैं। ये सभी वाहन करीब दो वर्ष पहले यानी 2016 में खरीदे गए थे।

अन्य नक्सल कमांडर भी निशाने पर
राज्य पुलिस ने इसकी तमाम गैरकानूनी संपत्ति का पूरा ब्योरा पहले ही तैयार कर इन्हें जब्त करने के लिए प्रवर्तन निदेशालय को प्रस्ताव भेजा था। अब इन संपत्तियों को एक-एक कर जप्त किया जा रहा है। बता दें कि संदीप यादव के साथ-साथ अन्य बड़े नक्सली नेताओं की भी तमाम गैरकानूनी संपत्ति को जब्त करने के लिए व्यापक स्तर पर अभियान प्रारम्भ किया जाएगा। संदीप यादव के बाद अब अन्य नक्सल कंमाडर भी प्रवर्तन निदेशालय के निशाने पर हैं।

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
Loading...
loading...